वासना की अग्नि – 1

मास्टरजी ने कुछ देर उसकी पीठ पर हाथ फेरा और फिर दोनों हाथों में तेल लेकर उसकी पीठ पर लगाने लगे। ठंडे तेल के स्पर्श से प्रगति को सिरहन सी हुई और उसके रोंगटे खड़े हो गए। पर मास्टरजी के हाथों ने रोंगटों को दबाते हुए मालिश करना शुरू कर दिया। शुरुआत उन्होंने कन्धों से की और प्रगति के कन्धों की अच्छे से गुन्दाई करने लगे । प्रगति की तनी हुई मांस पेशियाँ धीरे धीरे आराम महसूस करने लगीं और वह खुद भी थोड़ी निश्चिंत होने लगी। धीरे धीरे मास्टरजी ने कन्धों से नीचे आना शुरू किया। पीठ के बीचों बीच रीढ़ की हड्डी पर अपने अंगूठों से मसाज किया तो प्रगति को बहुत अच्छा लगा। अब वे पीठ के बीच से बाहर के तरफ हाथ चलाने लगे। पीठ के दोनों तरफ प्रगति की बाजुएँ थीं जिनसे उसने अपने स्तन छुपाए हुए थे। मास्टरजी ने धीरे से उसके दोनों बाजू थोड़ा खोल दिए जिस से वे उसकी पीठ के दोनों किनारों तक मालिश कर। सकें। मास्टरजी ने तेल की कटोरी अपने पास खींच ली और प्रगति की पीठ के ऊपर दोनों तरफ टांगें कर के उसके ऊपर आ गए। इस तरह वे पीठ पर अच्छी तरह जोर लगा कर मालिश कर सकते थे।

प्रगति के नितंब अभी भी चादर से ढके थे। मास्टरजी के हाथ रह रह कर प्रगति के स्तनोंके किनारों को छू जाते। पर वह इस तरह मालिश कर रहे थे मानो उन्हें प्रगति के शरीर से कुछ लेना देना न हो। उधर प्रगति को अपने स्तनों के आस पास के स्पर्श से रोमांच हो रहा था। वह आनंद ले रही थी। यही कारण था कि उसके बाजू स्वतः ही थोड़ा और खुल गए जिस से मास्टरजी के हाथों को और आज़ादी मिल गई। मास्टरजी पुराने पापी थे और इस तरह के इशारे भांप जाते थे सो उन्होंने अपनी मालिश का घेरा थोड़ा और बढ़ाया। दोनों तरफ उनके हाथ प्रगति के स्तनों को छूते और नीचे की तरफ नितंबों तक जाते।

यह कहानी भी पड़े  मकानमालिक की बीवी को सेक्स का मजा दिया

प्रगति के इस छोटे से प्रोत्साहन से मास्टरजी में और जोश आया और वे उसकी पीठ पर ऊपर से नीचे तक और दायें से बाएं तक मालिश करने लगे। कभी कभी उनकी निकर प्रगति के चादर से ढके नितंब को छू जाती। प्रगति की तरफ से कोई आपत्ति नहीं होते देख मास्टरजी ने उसके नितंब को थोड़ा और ज़ोर से छूना शुरू कर दिया। जिस तरह एक पहलवान दंड पेलता है कुछ उसी तरह मास्टरजी प्रगति के ऊपर घुटनों के बल बैठ कर उसकी पीठ पेल रहे थे। कभी कभी उनका लिंग, जो कि इस प्रक्रिया के कारण उठ खड़ा था, निकर के अन्दर से ही प्रगति के चूतडों को छू जाता था। प्रगति आखिर जवानी की दहलीज पर कदम रखने वाली एक लड़की थी, उसके मन को न सही पर तन को तो यह सब अच्छा ही लग रहा था।
अब मास्टरजी ने पीठ से अपना ध्यान नीचे की तरफ किया। पर नितम्बों की तरफ जाने के बजाय वे प्रगति के पाँव की तरफ आ गए। उन्होंने प्रगति के ऊपरी शरीर को चादर से फिर से ढक दिया और पाँव की तरफ से घुटनों तक उघाड़ दिया। इससे प्रगति को दुगनी राहत मिली। एक तो ठंडी पीठ पर चादर की गरमाई और दूसरे उसे डर था कहीं मास्टरजी उसकी मजबूरी का फ़ायदा न उठा लें। मास्टरजी को मन ही मन वह एक अच्छा इंसान मानने लगी। उधर मास्टरजी, लम्बी दौड़ की तैयारी में लगे थे। वे नहीं चाहते थे कि प्रगति आज के बाद दोबारा उनके घर लौट कर ही न आये। इसलिए बहुत अहतियात से काम ले रहे थे। हालाँकि उनका लिंग बेकाबू हो रहा था। इसी लिए उन्होंने निकर के नीचे चड्डी के बजाय लंगोट बाँध रखी थी जिसमें उनके लिंग का विराट रूप समेटा हुआ था। वरना अब तक तो प्रगति को कभी का उसका कठोर स्पर्श हो गया होता।

यह कहानी भी पड़े  मेरी बीवी की चूत और दोस्त का लंड

मास्टरजी ने प्रगति के तलवों पर तेल लगा कर मालिश शुरू की तो प्रगति यकायक उठ गई और बोली, “यह आप क्या कर रहे हैं?”

ऐसा करने से प्रगति के नंगे स्तन मास्टरजी के सामने आ गए। हड़बड़ा कर उसने जल्दी से अपने आपको हाथों से ढक लिया। पर मास्टरजी को दर्शन तो हो ही गए थे। मास्टरजी के लिंग ने ज़ोर से अंगड़ाई ली और अपने आपको लंगोट की बंदिश से बाहर निकालने की बेकार कोशिश करने लगा। प्रगति के स्तन छोटे पर गोलाकार और गठे हुए थे। अभी इन्हें और विकसित होना था पर किसी मर्द को लालायित करने के लिए अभी भी काफी थे। इस छोटी सी झलक से ही मास्टरजी के मन में वासना का अपार तूफ़ान उठ गया पर वे दूध के जले हुए थे। इस छाछ को फूँक फूँक कर पीना चाहते थे। उन्होंने दर्शाया मानो कुछ देखा ही न हो। बोले, “प्रगति यह तुम्हारे उपचार की क्रिया है। इसमें तुम्हे संकोच नहीं होना चाहिए। तुम मुझे मास्टरजी के रूप में नहीं बल्कि एक चिकित्सक के रूप में देखो। एक ऐसा चिकित्सक जो कि तुम्हारा हितैषी और दोस्त है। अब लेट जाओ और मुझे मेरा काम करने दो वरना तुम्हें घर लौटने में देर हो जायेगी।”

Pages: 1 2 3 4 5 6 7

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!


मेरी बहन मेरे साथ सो रही थी मैंने उसके बूब दबाये सेक्स स्टोरी हिंदीcar se safar me sex storyDelhi university girls hostel pati injay sex Kamukata naurseमें डिल्डो यूज करती हूँहिंदी पोर्नमम्मीपापाchodo magar pyar se antarvasna.co.अन्तर्वासना १२ इंच के लुंड से माँ की गण्ड छुड़ाई ट्रैन में हब्सीbade kulhe wali bahu ke chudaiअम्मी ने दीदी को चुदवाया अबु सेBhad Mera Barmer ki MMS videoमममी की चुदाई कहानीmaa aur mausi ki chudaiओरत की नगी छती की फट antervasna,com foji untifak mi yes ohh aaa सेक्स स्टोरीअन्तर्वासना आंटी को घर परभोषडे की ललकxxxचोदाइ कि कहानीहिंदी सेक्स स्टोरीज सबने मिलकर छोड़ाAntarvasnachod kar behos kar diya xxxbfBadi mashi ki ladki ke sath sex chudai storyKamleelaJidmsexstorys.www.patnisexstory.commakan malkin nabhi chusi Lund chusayawww.kamukta comSex kahaniya/बर्थडे गिफ्टGaon me randi ki gand mari kachhii fadkarचूतनिवास सेक्स स्टोरी 1 लडका लडकी2 सेक्सी कहानी हिंदीहिन्दी गंदी कहानी में चुद गयी चौकीदार से Maa ke sath antarvasna in hindiदुध चूची मिटा लडकीsasu.mama.ke.bose.mare.bathroom.hind.sex.storyबस मे बहू कि चूदाईबहन को दौद के देखना हैmummy ne vidhwa mausi se shadi karwa di sex kathaptni.ko.khet.me.choda.hindi.sex.storiमेरी ननद पायल मेरे पति और मेरी चुदाईचूत चोदना चुदाई खानामेरे ड्राइवर का मूसल लंड हिंदी सेक्स स्टोरीमाँ की सेक्सी कमर कहानी राज शर्मा बहन की चुदाई माँ के साथ चूत antrvasnaKahani.sex.barsat.ki.bahiचुदक्कड औरतचुत कहानीताई की चूदाई कहानीदीदी के सामने बैठकर मुठ मारmaa ko car ke piche choda story in hindichut chodta panjave vdoantarvasna.jhad gayi par nahi ruka dhakke lagata rahanaukar ko pany sunghte deka hindi sex storyxx सेलिब्रेट देखते हिदी चोदयChut Ke photaमुझे मां ने चोदू बना दियाchudwaya3 logo seshachi kahani sex .comसंयोग से मा बैटा सेक्स कहानीचूदाईसोतेलीपति पत्नी मार्डन विचार के सेक्स स्टोरीभाभी के बुर का स्वाद कहानीmummy ne mere samane kapade badale hindi sex storyhindai chudai story antarvasnmadmast kahaniराधा बहु को चोदा कार मेRishto ma randiyo ki chut bhosda chudaibur may gagarchodai.bacche ke liye tantrik se chudwaya rishto Mein Chudai sas ke samne Sasur Ke SamneKamukata naursewww xxx veedio handi bhabhi ki chudaiसहेली के जीजू का लंडKomal na apana bahi sa cudvaya xxx kahaniहोटल के मालिक से चुदी Hindi sex storynew indiyan aintarvasna stori momdoctor ki clinik me chodai kahani hindiकरवा चौथ पे usha chachi chudai ki khaniantarvasna pate ke smane chudaySex story hinde barik Dudh wale ko choda चुदक्कड़ दीदी बुरचोद मम्मीफुला चुतमाली के घर मे नोकरानी के चुदाई के कहानीमाँ पापा सास समधि सेक्स स्टोरी ग्रुपरंगीली बहनों की चूत चुदाई का मज़ाpados vali bhabi ko chodaxxSixes xxxxxxxxx sixes stori hindi meपडोस की दीपा को चोदा सेक्स कथाजल्दी चोद ले बेटेचूतनिवास सेक्स स्टोरी Holi ma bahan ki chhodai