ट्रेन में मिली अनजान भाभी की चुत चुदाई

मैं ट्रेन के स्लीपर कोच में था पर बहुत सारे बिना रिजर्वेशन वाले लोग मेरे डिब्बे में थे. मैंने एक भाभी को अपनी बर्थ पर जगह दी. उसके बाद मैंने भाभी की जवानी का मजा लिया.

सभी दोस्तो और उनकी सहेलियों को मेरा नमस्कार. मेरा नाम हैप्पी शर्मा है. मैं बिहार का हूँ मगर फिलहाल हरियाणा के सोनीपत में रहता हूं. मेरी 2 महीने पहले की मार्केटिंग जॉब लगी थी.

यह बात अभी एक हफ्ते पहले की है, जब मैं दिल्ली से अपने गांव सोनपुर जा रहा था. मैं वैसे तो कुछ नहीं करता, लेकिन नॉलेज सबकी रखता हूं.

मैं ट्रेन से जाने की तैयारी कर रहा था. आम्रपाली ट्रेन में ऊपर की बर्थ की स्लीपर कोच की मेरी टिकट कंफर्म थी. मैं ठीक टाइम पर स्टेशन पहुंच गया. मेरे पास एक बैग और ओढ़ने बिछाने के लिए चादर थी.

ट्रेन अपने टाइम से आई और चल दी. दस ही मिनट के अन्दर ट्रेन में इतनी भीड़ हो गयी जैसे और सारी ट्रेनें कैंसल हो गयी हों.

मेरी रिजर्व बर्थ होने के बावजूद मुझे अपनी बर्थ तक पहुंच पाने का अवसर बड़ी मुश्किल में मिल सका. भीड़ हद से ज्यादा थी इसलिए मुझे नीचे सीट पर बैठने का मौका नहीं मिला. मैं ऊपर की बर्थ पर चला गया.

ट्रेन दस मिनट देरी से चली. गाज़ियाबाद के करीब ट्रेन पहुंची तो बारिश होना शुरू हो गयी. इससे गाज़ियाबाद से आने वाले लोगों की भीड़ और बढ़ गयी.

कुछ टाइम बाद जब टीटी आया, तो सबने टिकट चैक कराए. जो बिना रिजर्व टिकट के थे, उनकी टीटी ने जेब काटी.

जब टीटी था, उसी समय मैं ऊपर की बर्थ से नीचे उतर आया. मुझे सुसु लगी थी. जब मैं बाथरूम से वापस आया, तो मेरी ऊपर वाली सीट पर एक भाभी आकर बैठ गई थीं. भाभी बड़ी मस्त दिख रही थीं. नीचे भीड़ भी ज्यादा थी, तो मैं भी ऊपर अपनी बर्थ पर जाने लगा.

यह कहानी भी पड़े  भारती दीदी की गांड में लंड

वो बोलीं- ये आपकी सीट है?
मैंने हां में उत्तर दिया. इस पर वो बोलीं कि ठीक है, मैं थोड़ी देर में टीटी से अपने लिए सीट पक्की करवा लूंगी, अभी भीड़ ज्यादा है.
इस पर मैंने कहा- कोई बात नहीं … आप बैठ सकती हो.

मैं बर्थ पर आ गया और अपने फ़ोन में फेसबुक फ़्रेंड्स के साथ लूडो खेलने लगा. वो बार बार मेरी तरफ देख रही थीं.

मैंने उनसे खेलने को पूछा, तो वो बोलीं- ओके.

मैं और भाभी नार्मली लूडो खेलने लगे. कोई 4-5 मैच खेल कर हमने खाना खाने का प्लान किया और टिफिन निकाल कर खाना खाने लगे.

मैंने उनसे उनका नाम जानना चाहा, तो मालूम हुआ कि भाभी का नाम मनीषा था. जब हम दोनों खेलने के साथ बात कर रहे, तभी उन्होंने अपने बारे में बताया था कि वो दिल्ली पेपर देने आई थीं. उनके पति की कोई हलवाई की शॉप है.

खाना खाने के बाद हम बातें कर रहे थे. करीब 9 बजे के आस पास मैंने पूछा- टीटी आया नहीं … और भीड़ भी ज्यादा है … आप कैसे करोगी?
वो कुछ नहीं बोलीं, बस मेरी तरफ असहाय सी देखने लगीं.
मैंने कहा- ओके आप मेरी सीट पर ही रह जाओ. जब टीटी आएगा तब देख लेंगे.
तो भाभी ने कहा- ठीक है.

मुझे बिना चादर के नींद नहीं आती, तो मैंने चादर अपने ऊपर कर ली और आधे पैर सीधे करके बैठ गया. वो भी वैसे ही बैठ गईं.

जब कम्पार्टमेंट की सारी लाइटें बन्द हो गईं … तो एकदम घुप्प अँधेरा हो गया. उस डिब्बे की नाईट लैम्प खराब थे. कोई भी नाईट लैम्प नहीं जल रहे थे.

यह कहानी भी पड़े  मॉल में मिली लड़की की चूत और गांड चुदाई

मैंने भाभी से पूछा कि आपको सोना है, तो आप सो सकती हो. उनका पैर मेरी तरफ था और मेरा पैर उसकी तरफ था.

वो भी लेट गयी और मैं भी लेट गया. रात 11 बजे के करीब थोड़ी थोड़ी ठंड लगने लगी … तो उन्होंने मेरी चादर को अपने ऊपर कर लिया. मुझे ट्रेन में नींद नहीं आ रही थी, मैं उठा हुआ था.

मैंने नोट किया कि भाभी का जिस्म मेरे बदन से टच हो रहा था. इससे मेरा लंड धीरे धीरे खड़ा हो रहा था. मैंने भाभी की जांघों के नीचे से टांग बढ़ाते हुए उनकी गांड से नीचे पैर लगाने लगा.

ट्रेन चलने के कारण और मेरा पैर उनकी गांड को छूने लगा. उन्होंने कुछ नहीं कहा. फिर जब भाभी ने अपने पैर सीधे किए और चादर को अपने ऊपर पूरा ढक लिया, तो मैं डर गया और हल्का सा खुद को सिकोड़ कर पीछे कर लिया.

फिर भाभी के पैर से मेरा लंड छूने लगा. इस बार मैं उनके पैरों को अपने शरीर की हरकत से सहला रहा था.

फिर अचानक से भाभी ने करवट बदल ली, अब मेरे पैर उनकी चुचों से लग रहे थे. उधर उनके पैर मेरे लंड को छूते हुए मेरी छाती से लग रहे थे.

इससे मेरा लंड और भी खड़ा होने लगा था. ट्रेन के हिलने का फायदा लेकर मैंने एक हाथ उनकी गांड पर रख दिया, वो कुछ नहीं बोलीं.

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!


दिदी नै चौदना सिखाया वौ बुबस दिखाती थीbhn se rndi bnne ki antrvasna storyभाभी को रखैल बनाया राजशरमा गंदी कहानीपति ने मेरी चुत चार दोस्तों से चुदवा दी-3maa ko chudte dekhaगालिया देकर फोन शैक्श की कहानिया रिस्तो के बीचचुदाई चारो की बुरtau ji mammy ki saxy storyवहशी लण्ड से गांड चुत ताई कीसामुहिकचुत चूदाई की कहानियाpela peli ki kahaniantvasana sex.comxxx rajasthan suhagrat ki khaniyaखूबसूरत लढकी कीxxxमै चुदी बरसात मे गैर मर्द सेSuhagrat ki sexy video Dheere Dheere Kapda Utaraबुवा को चुदते देखाsex. baba. net. sasur. bhi.बरसात मे भी जाने के बाद की फुल सेक्सी व्हिडिओसारिका ने लँड अपने मुँह मे डालाजवान सास ने दमाद का लढ ले लियाbahenkichudaikahanibhaiya ko jhalak dikhai incestghasai wali video sexWww.antravsna papa ka krja chukaya mammi nemom ka gangbang dekha gundon seguda methun antarvasnaनाभि se utejna sexbhabi n mutna sikhaya kahniभाई और बॉस हिंदी सेक्सsavitaki sex aapviti kahanisexstoryneeluBHARI BHARKAM BADAN BHABHI KO GHODI BNA KAR CHUDAI KI KAHANIAबालकनी पर चुदाई कहानियाँsex stories bhabhi ke blause ka hukh dekh karझोपडी में माँ के साथ सेक्स कथा हिन्दीmasi ke sath hanimoon antervasna storyRoti सेक्सी चुदाई वालाकामवालि ने कई घरों की औरतों को चोदवायाmummy ne chacha ss chudwayaBhabi ki peticot me cockroach antarvasna momरिशतो मे सेकस कहानी पडने को बता ओमेरा लंड सिकंदर बड़ी साली की चूत के अन्दर-4सर्दी में सेक्स के मजेbiwi chudi builder se in hindi sex kahaniyaantervsna aunti or bhabhiचुचिमेरी प्यारी मस्त दीदीSoteli bahan ko ragadkr chodaछाया दीदी की चोदन की कहनी xxx शहर हीन्दिbua ki besharami sex storyएनिवर्सरी पे चुदाईmaa bete ki antarvasnaAnatrwashnasister antarvasnabholi ladki ko lalach dekar sex storyएक राउंड और लगाया चुदाई काAah pelo na bhenchod desibees chudai storiकचि उमर लडकी चुत गरमी xxx mp4पापा ने रगड़ कर चोदाचोदाई के सभी फोटोविधवा भाभी की चुड़ाई की स्टोरीMaa , mausi aur mami ko ek saath choda sex storyमौसी की जाने अनजाने में चोदाईsex story chut ke liye zut bolaपेशाब पिलाकर sexy stoदीदी को पहली बार देखा बिरा पर हिनदी मेमेरे अशिक ने मेरे बुर मे डाल कर चोदाHindi sex kahani maa ko bibi bna ka didi ke satमामि को जबरदस्ति चोदा कहानिusha ki madmast jawaniमालकिन के बूब्स बड़े मस्त मस्त हैं सेक्स कहानी sexbabaपति पत्नी मार्डन विचार के सेक्स स्टोरीAntarvasna didi sdisuda holibur ka haal behal kiyaपत्नी को जमके चोदाmeri.rani.choot.me.land.lo.desididi ke sath london me incest khani