सुष्मिता भाभी की चुदाई कहानी – 2

क्रमशः……………..

गतान्क से आगे…………..

मैं एक लग्षुरी नाइट कोच से सुष्मिता के साथ काठमांडू से लौट रहा था.होटेल से निकलने के पहले सुष्मिता ने नहा कर काफ़ी आकरसाक मेकप किया था. उस ने गुलाबी रंग की सिल्क सारी और उस से मिलते रंग की ब्लाउस पहन रखा था. ब्लाउस का गला आगे और पिछे दोनो तरफ से काफ़ी बड़ा था जिस से उस के पीठ का अधिकांस हिस्सा खुला हुवा था. ब्लाउस के आगे के लो कट यू-शेप के गले से उस की चूचियों का कुच्छ हिस्सा झलक रहा था. ब्लाउस के अंदर पहने उसके ब्रा का पूरा नकसा ब्लाउस के उपर से साफ दिख रहा था. टाइट ब्लाउस में कसे होने के कारण उस की चूचियों के बीच एक लाइन बन गयी थी. सारी और ब्लाउस में कसमसाती उस की चूंचिया काफ़ी सुडौल और आकरसाक लग रही थी. उन्हें देख कर किसी भी मर्द का मन उन्हें कपड़ो के बाहर देखने को तडपे बिना नहीं रह सकता. गले में उसने सोने का चैन और चैन में एक आकरसाक लॉकेट पहन रखा था जो उस की चूचियों के उपर लटक रहा था. कानों में सुंदर सोने की बलियाँ और नाक में सोने का नथ उस की सुंदरता को और बढ़ा रहे थे. उसने अपनी दोनो बाँहों में सारी से मॅच करते रंग की सुंदर चूड़ीयाँ पहन रखी थी. उस की दोनो हथेली आकरसाक डिज़ाइन में लगी मेहंदी से सजी हुवी थी और उस के हाथों और पाँवों के नाखूनों पर गुलाबी नाइल पोलिश लगी हुवी थी. उस ने अपने पाओं में घुंघरू दार चाँदी की पायल पहन रखी थी. इस तरह चलते वक्त उस की पायल के घुंघरुओं से छम छम का मधुर संगीत बज उठता था और जब कभी वो अपने हाथों को हिलाती थी तो उस की बाँहों की चूड़ीयाँ खनक कर वातावरण को मधुर तरंगों से भर देती थी.उसने मेक-अप भी काफ़ी आकरसाक ढंग से किया था. उस के गोरे गाल महँगा क्रीम लगा होने से और सुंदर लग रहे थे तो वहीं होंठों पे लगा लिपस्टिक उस के होंठों की सुंदरता को और बढ़ा रहा था. .. उस के माथे पे लगी बिंदी और माँग में सजी सिंदूर उस के रूप को ऐसे चमका रहे थे जिसे देखने के बाद उसके सुंदर मुखड़े को छुने और चूमने को कोई भी व्याकुल हो जाए. जब वो अपनी बलखाती चाल के साथ टॅक्सी से उतर कर अपनी कमर मतकती बस में सवार हुई तो लोग उसे देखते रह गये. मुझे पूरी उम्मीद है कि आसपास के सभी मर्द उसे छुने और कम से कम एक बार उसे चोदने की लालसा ज़रूर किए होंगे. आस पास की औरतों और लड़कियों को उस के हुस्न से ज़रूर जलन हुई होगी.

यह कहानी भी पड़े  पुणे की मराठी भाभी के साथ सेक्स

लेकिन इन बातों से बेख़बर वो अपनी कमर मतकती हुई बलखाती चल से चलती हुई बस में सॉवॅर हो कर अपनी सीट पे बैठ गयी और उस के पिछे पिछे चलते हुवे मैं भी उस के बगल वाली सीट पे बैठ गया. बस के अंदर भी हमारी सीट के आस पास बैठे लोग एक दूसरे की नज़र बचा कर अपनी आँखों से उस की सुंदरता के जाम को पी रहे थे. हमारी सीट से आगे के रो में बैठे लोग बार बार पिछे मूड कर उसे देख लेते थे, मानो ऐसा करने से उन की आँखों और दिलों को ठंढक पहुँच रही हो. हमारी रो में ऑपोसिट साइड की सीट पे दो सुंदर लड़कियाँ बैठी हुई थी और वो भी कभी कभी मूड कर सुष्मिता और मेरी तरफ देख लेती थी. बस अपने निर्धारित समय से रात के 9 बजे चल पड़ी. बस चलने के बाद करीब एक घंटे तक बस के अंदर की लाइट जलती रही और इस बीच लोग बार बार उस की सुंदरता को अपनी आँखों से पीते रहे. करीब दस बजे कंडक्टर ने बस की सारी बत्तियाँ बुझा दी जिस से बस के अंदर अंधेरा च्छा गया. अंधेरे में कुच्छ देर तक लोगों की बात चीत के आवाज़ आती रही और करीब 10 बजते बजते बस के अंदर बिल्कुल खामोसी च्छा गयी. . मैं इसी मौके के इंतजार में था. मैने सुष्मिता को अपने पास खींच लिया और खुद भी थोडा खिसक कर उस से सॅट गया. मैने अपने दाहिने हाथ में उसका बायां हाथ ले लिया और उसके हाथ को अपने हाथों से सहलाने लगा. मेरे अंदर इस से सनसनी बढ़ती जा रही थी. मैने उसे अपनी गोद में खींच कर उसके मुखड़े पे एक चुंबन जड़ दिया. अब मैने अपने दाए हाथ को उस के कंधे पे रख कर उस के कंधे और नंगे पीठ को सहलाने लगा. थोड़ी देर में मेरा हाथ फिसलता हुवा उस की दाहिने चूची पे पहुँच गया और मैं उसे ब्लाउस के उपर से ही सहलाने लगा. चूची को सहलाते सहलाते कभी कभी मैं उसे जोस से दबा देता था. अब मेरा लंड पॅंट के अंदर पूरी तरह खड़ा हो कर तेज़ी से फुदकने लगा था. मैने उसके बाएँ हाथ को अपने बाएँ हाथ से पकड़ कर अपने लंड पे खींच लाया. वो अपने हाथ से पॅंट के उपर से ही मेरे लंड को दबाने लगी. मैं अपने बँये हाथ को उस की जांघों पे रख कर उन्हे सहलाने लगा. मेरा दाहिना हाथ लगातार उस की चूंचियों पे फिसल रहा था. मैं सुष्मिता की चूचियों और जांघों को सहला रहा था और वो मेरे लंड को अपने हाथों से मसल रही थी. रात अब काफ़ी बीत चक्का था और मार्च का महीना होने के कारण अब हल्का ठंड महसूस हो रहा था जिस का फ़ायडा उठाते हुवे बॅग से हमने एक चदडार निकाल कर उसे अपने जिस्मों पर डाल लिया. हमारे जिस्म अब चदडार से पूरी तरह धक गये थे. जिस्म पे चदडार डालने के पिच्चे ठंड तो सिर्फ़ एक बहाना था क्योंकि इतना ज़्यादा ठंड भी नहीं पड़ रहा था की बिना चदडार के काम ना चल सके. हमने तो चदडार का इस्तेमाल सिर्फ़ खुल कर एक दूसरे के बदन का लुत्फ़ उठाने के लिए किया था.

यह कहानी भी पड़े  शालिनी भाभी की ऑफीस मी गांड मारी

Pages: 1 2 3 4 5 6 7

error: Content is protected !!


bahu ne sasur ko rat me jabrdasti jagya xxxbf kahani hindiचुदाईरुस कीxxx kahani teren moshiआज के लिए देवर बोनोhindisexykahaniMere parivar ke kachche aam sex storyvaishali ki bur chudai kahaniyaSamdhi se chudvayaataravasana sex storixossip रामलाल और राधा बहूसाहब आप बहुत पाजी हैं पर्दे खींच दोमाँ को जबरदस्ती कहानी तेल लगा केसील बद लङकी चुदायी की कहानी हिदीmaa ko nind ka dawae de kr sex storiMaire phuphi land ki pyasseShila ki chut pornकाला लन्ड से गांड़ की चुदाईDoktar.chudawi.kahanikhetme rekha bhabine lund pakda hindimeMajedar xxx Kahani gf ke sathदेदे को माँ बनय सक्स स्टोरमुझे चोदने आओगे ना हिन्दी सेक्स कहानियांसुहागरात हिनदी म saxc moveiHindi sex chudai khaniya safar jabardarti chudiyadudhki chudaikahanihindisexstory motisethani की चुदाई/pune-ki-rich-aunty-ki-chudai/Antarvasna.com मम्मी की भोसड़ीMamma ko choda masaj karke khaniseksi khaneeमूत पीकर चूत का मजाkala land shafid chut land chut landदीदी केवल आज के लिए Hindi Sex Storiesबहन के ब्लू फिल्म चुदाई कहानियागांद और चुत चुदाई कहानीmama bhanjisex kathaदेशी बहन को 15 गेर mardo से ganbabng सेक्स krwaya हिंदीचुदाई कहानी मुमबई की खोली मे बाप बेटी की चुदाईbyan ki chachi chudaiसविता की चूत की मालिशroom patnar ke kamuk kathayebahen ke chakkar me maa chudi antarvasnaप्यार मैं फंसा कर की मेरी गैंगबैंग चुदाईlund par khoob koodi sex storyमाँ बेटे की चुदाई कहानियाँ दिखाएSadisuda bhua ki ladki k sath antervasnaमराठी माँ चुदायी कहाणीछत पर बहन की शील तोड़ कर चोदा कहानीantarwarhna handi my mose kebiwi ko waiters se chudai kahaniपूजा शाली को चोदामाँ की चुदाई पडोस के पत्ती के दोस्त सेbehan ki gand ki malish hindi sex khaniya2019रंडी महिला का पुराफोटो चुच ओर बुरasadharan rishton me chudaiमेरे देवर का लँड कहानीchoti ladkiyon kixxxXxxx bhau bate na bap chudie kahine hinde पति के सामने चुदाई मेरी चुतसेक्सी काहानी लेजबियन माँ बेटी नंनदTaaihindisexstorychudakkad didi ki xxx kahaniचाची ने तेल मालिश करके लंड को बङा कियामां ने पापा से सजा दिलाई Hindi Sex Story chudvasi hindi satori .comचुत की चुदाई चिल्लाईDaru peene ke baad parivarik chudai ki mast kahaniyacar se safar me sex storyमै निंद मै सो रही थी तब भांजे ने जबरदस्ती से गांड मारी चुदाई कहानीdasebees com.xxx hinde sex storyपरिवार की छुड़ाय देखि सेक्स स्टोरीजरंडी सौतेली विधवा माँ को चोदकर उसका पति बना/holi-may-maa-ki-chudai-ki-1/usha anti ki moti gand mari storyMauseri saas kisexy kahan8yaकोई देख लेगा सर-antarvasnaMele me sasa susur rajsharmakankh.bal.besi. nangi photo desi.pura.photoहिंदी चुदाई काहानियॉ बडे बडे बूबChut chatte smy muh me mutnatrainmechodaikahaniपानी मेsex पडोस की भाभी की मोटी गाड की मालिशkirayedar aunty sex story in hindiबीवी और बहन की च**** ट्रेन मेंमाँ का दीवाना हिंदी सेक्स स्टोरीअन्तर्वासना रिस्तो में चुड़ै गेट किसी को तन का मिलन चाहिएmera bhai mera premi chudai storiesचुदाईजारीमूसलिम चुदाइताऊ ताई की चुदाई कहानी