जवान दीदी की हॉट चुदाई की कहानी

वर्षा ने मेरे कमरे का दरवाजा बंद किया और मेरी और घूरते हुए बोली- क्या कर रहा था तू ऊपर? ज्यादा ही जोश चढ़ रहा है तुझे?
दोस्तो.. मैं आपको बता दूँ कि वर्षा मेरी बहन भी एक मस्त गर्म माल है.. उसकी हाइट 5.5 फीट है और फिगर 34-32-38 का है।
वो मेरी तरफ गुस्से से घूरते हुए बोली- बोल.. बोलता क्यों नहीं.. क्या कर रहा था ऊपर सासू माँ के कमरे के बाहर?
दोस्तो, वो गुस्सा तो हो रही थी.. पर उसकी नजर मेरे बाहर निकले लंड पर ही थी। वो बार-बार मेरे लंड की तरफ तिरछी निगाहों से देख रही थी।
लेकिन मेरी तो साँस ही अटक गई थी।
मैं बोला- दीदी मुझे माफ़ कर दो।
लेकिन जैसे ही मैंने मुँह खोला उसने दो चांटे और मार दिए। अब मेरी आँखों से आंसू टपकने लगे। लेकिन उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ।
मैंने गाल सहलाते हुए बोला- दीदी आ लग रही है.. मुझे माफ़ कर दो.. अब से ऐसा नहीं करूँगा।
वो कुछ नहीं बोली.. बस मुझे घूरती रही।
मेरी तो गांड फट के हाथ में आ गई। मुझे लगा कि अगर इसने पापा-मम्मी को बता दिया.. तो मेरी माँ तो मेरी गांड ही फाड़ देगी। वैसे भी वो बहुत खतरनाक है।
मैं यह सब कुछ सोच ही रहा था कि इतने में वर्षा मेरे पास आई और मेरे गाल पर हाथ फिराने लगी।
अभी भी मैं सुबक रहा था। उसको ऐसा करते देख मैं और सहम गया और डर से काँपने लगा। मुझे लगा आज तो मेरी खैर नहीं.. तभी वर्षा ने कुछ ऐसा किया जिसकी मुझे उम्मीद भी नहीं थी। उसने मेरे मुरझाए लंड को अपने नरम-नरम हाथों में पकड़ लिया और दूसरे हाथ से मेरे गालों को सहलाने लगी।
यह देख कर मैं एकदम से चौंक गया।
तभी वर्षा ने बोला- सॉरी भाई.. मैंने तुझको मारा, तुझे बहुत दर्द हुआ न.. ले तू भी मुझे मार ले।
बोल के उसने मेरा हाथ पकड़ कर अपने एक बोबे पर रख दिया।
दोस्तो, एक पल को तो मुझे कुछ भी समझ नहीं आया कि यह हो क्या हो रहा है लेकिन अगले ही पल वर्षा मेरे सीने से लग गई।
वो मेरी और देखते हुए बोली- विक्की मेरे भाई.. तू वहाँ क्या कर रहा था?
तो मैं कुछ नहीं बोला.. तभी वर्षा ने जोर से मेरे लंड को मरोड़ा, तो मैं दर्द से बिलबिला उठा।
उसने फिर पूछा तो मैंने डरते-डरते बोला- वो मैं.. मुझे नींद नहीं आ रही थी.. तो मैं ऐसे ही घूम रहा था कि तभी ऊपर के कमरे से कुछ आवाज आई और मैंने वहाँ जा करके देखा तो.. वहाँ रमेश अंकल और सविता आंटी दोनों.. दोनों.. कुछ कर रहे थे।
यह बोल के मैंने अपनी नजरें फिर से नीचे कर लीं और चुप हो गया।
तभी वर्षा ने बोला- क्या कर रहे थे.. सही-सही बता, नहीं तो सुबह मम्मी को सब कुछ बता दूँगी।
बोल कर उसने मेरा लंड फिर से मरोड़ दिया।
मेरी रूह यह सुन कर और लंड के मरोड़ने से.. अन्दर तक काँप गई।
मैंने बोला- दीदी वो.. सविता आंटी और रमेश अंकल दोनों सेक्स कर रहे थे।
तो दीदी बोली- वो सेक्स कर रहे थे तो इसमें क्या बुरा है। वो दोनों पति-पत्नी हैं.. अगर वो सेक्स करते हैं.. तो करने दो!
मैं दीदी की ये बातें सुन कर समझ ही नहीं पा रहा था कि वो क्या चाहती है।
तभी दीदी ने मेरे लौड़े को धीरे-धीरे सहलाना चालू कर दिया।
मुझे डर भी लग रहा था और मजा भी आ रहा था।
कुछ समझ नहीं आ रहा था कि क्या करूँ।
मैंने दीदी का हाथ झटकते हुए उसको अपने से दूर कर दिया। ये देख कर दीदी ने मुझे मेरी कॉलर से पकड़ कर जोर से धक्का दिया और मुझे बिस्तर पर धकेल दिया और फुर्ती से मेरे ऊपर चढ़ कर बैठ गई।
मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि ये क्या हो रहा है।
तभी दीदी ने दो और थप्पड़ मेरे गाल पर मार दिए और बोली- कमीने एक तो गलती करता है.. और ऊपर से मुझे रोब झाड़ रहा है। तेरी माँ को चोदूँ भड़वे.. साले गांडू.. रुक तुझे अभी बताती हूँ।
वो मुझे ताबड़तोड़ थप्पड़ मारने लगी, मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि ये हो क्या रहा है।
मैंने उससे बोला- दीदी प्लीज मुझे छोड़ दो.. आप जो बोलोगी.. मैं वो करूँगा।
मैं उसके आगे हाथ जोड़ने लगा।
वो फिर मुझे घूरते हुए बोली- साले गांडू.. भेन्चोद बनेगा.. बोल रंडी की औलाद।
मैंने बोला- दीदी आप जो बोलोगी.. मैं वो करूँगा, प्लीज मुझे छोड़ दो और मम्मी को कुछ मत बताना।
तो दीदी बोली- एक शर्त पर तुझे छोड़ दूँगी.. अगर तू मेरी बात माने तो..
मैंने दीदी की आँखों में देखा तो उसकी आँखों में लाल-लाल डोरे नजर आए।
उसने कहा- मैं जैसा बोलूँ.. अगर तू वैसा करेगा, तो मैं तुझे कुछ नहीं बोलूंगी और माँ को भी कुछ नहीं बताऊँगी।
मैंने अपने हाथ जोड़ कर उसको कहा- हाँ जो तुम कहोगी.. मैं वैसा ही करूँगा.. प्लीज तुम माँ को कुछ मत कहना।
यह बोल कर मैं उठ कर बैठ गया।
अब दीदी मेरे सामने बैठी थी और मैं उसके सामने।
दीदी बस मुझे ही घूर रही थी, उसने कहा- चल अपने कपड़े निकाल..
और ये बोल कर उसने मुझे बिस्तर से नीचे धक्का दे दिया।
दीदी ने मुझे नीचे गिरा दिया और बोली- मैं जैसा बोलती हूँ वैसा करेगा.. तो मैं माँ को कुछ नहीं बताऊँगी।
अँधा क्या मांगे दो आँखें.. मैं तुरंत मान गया।
तब वर्षा ने मुझसे कहा- एक बात बता और सच-सच बताना कि जब तू मेरी सास के कमरे में झाँक रहा था.. तब तुझे कैसा लग रहा था।
तब मैंने देखा कि मेरी मासूम सी दिखने वाली बहन की आँखों में लाल-लाल डोरे तैर रहे हैं.. तो मैंने अपनी गर्दन नीचे करते हुए कहा- अगर मैं बता दूँगा तो वादा करो कि तुम माँ को कुछ नहीं बताओगी।
वर्षा ने बोला- प्रोमिस.. मैं माँ को कुछ नहीं बताऊँगी और अगर तू सच बोलता है तो मैं तुझको अपने ससुराल की एक ऐसी रस्म के बारे में बताऊँगी जिसको सुनके तुझे मजे आ जाएंगे.. और अगर मेरा मन हुआ तो तुझको कुछ और भी तोहफा दे दूँगी।
दोस्तो, यह बात सुन कर तो मेरे मन में हलचल होने लगी, मैंने सोचा चांस लिया जा सकता है।
तब मैंने मन ही मन बाबाजी के घंटे को याद किया और सोच लिया कि वर्षा को सब कुछ सच-सच बता दूँगा, क्या पता किस्मत थोड़ी मेहरबान हो जाए।
मैं बोला- जब मैं ऊपर सविता आंटी के कमरे के बाहर पहुँचा तो देखा कि आंटी जोर-जोर से रमेश अंकल का लिंग चूस रही हैं।
मैंने जानबूझ कर ‘लिंग’ बोला, ये देखने के लिए कि वर्षा इस पर कैसे रियेक्ट करती है।
वर्षा ने बोला- क्यों रे मादरचोद.. लंड बोलने में क्या तेरी गांड फट रही है साले भड़वे.. भोसड़ी के.. सुन मेरे सामने ज्यादा शरीफ बनने की कोशिश मत कर नहीं तो तेरा वो हाल करूँगी कि जिन्दगी भर मुझे याद रखेगा। अब से तू लिंग को लंड और योनि को चूत, बुर या फिर फुद्दी और सेक्स को चुदाई बोलेगा.. समझा।
मैंने उसकी लाल आँखों में देखते हुए बोला- ठीक है दीदी।
अब मैंने बताना शुरू किया कि कैसे सविता आंटी रमेश अंकल के लौड़े को चूस रही थीं और कैसे वो उसको चुदाई के लिए तैयार कर रही थीं।

यह कहानी भी पड़े  जवान दीदी को बॉस ने जमकर पेला

Pages: 1 2 3 4 5 6 7

error: Content is protected !!


Sexy stori sex baba net bahu ki chudai xxxमेने गालियां दे देकर चुत चुदवाईदीदी ने प्यार से चुदवायाBas khre chudai hindi sxs storesnanad ki chut pati se fadwaiबहु की माँसल गाँडभाई पेसो ke lalch मुझे chudwae bhahan सेक्स vidioGosiya mast sex hdरजिया टांगे वाली चुदाई हिंदी कहानीPapa ne nangi photo khiche storieswww xxx veedio handi bhabhi ki chudaiChit ke andhar mutnaठाकुर साहब से चुदाईमॉम की सहेली की च**** करी स्टोरी हिंदीChu dalam hindi sex.comantarvasanasexstory.comखेत में सलवार खोलकर पेशाब टटी मुंह में करने की सेक्सी कहानियांrajsarma sex stori choti suhagratshohar k saamne gundo ne chodaपत्नी समझ कर बुआ को चोदाsasural me meri chudai rajsharma sexstoryमॉ को चुदवाया पैसे के लिएgudda guddi ka sexy khel hindi storyantar vasna ट्रेन में चुढाइओह्ह माय गॉड फक मी सेक्स स्टोरीchudai hindi kahani incestलता कि चुत के फोटोsexekahanehendeटिचर बोली मुझे दो मोटे लँड से चोदोAai and ssurji marathi sex Kahaniya इमरा हासिमि की बहन सकसी xxxbidhwa bhabhi ki malis aur bedroom me chodai xxxvideosरजिया टांगे वाली चुदाई हिंदी कहानीबुर जुजी का साफ साफ फोटो बताएma ankal caca ke saxy khane hindi maनंदोइ के साथ चौदाई की कहानीमामी सुहागरातandhre me ma ki chudai saheli ne karaimousi ka diwana sexy kahaniyaमामी को लण्ड के झटकेstrapon se gand chudai hindi sex storiesChacha Ne bhatiji ko choda Neend mein hai videoबुर मे चोद दिया कि कहानीमोबाइल लडकी गाँव सफर कहानीनई हिंदी माँ बेटा सेक्स chunmuniya .comबिबि चुदि गैर से ट्रेन मेBra penti saddi vali rich bhabi sexy Hindi story chikni chunmuniya sex babananad bahanchod bhabhi sahelisex story bade boob dikhake saheli ke patithand me bujai jism ki garmiबाबुजी के धोती मे मोटा लंडanita antravarsnaमस्ट आंटी छुड़ाकर गाली में कहानियाhotel mai buwa ki xx khaniचुदाई में बेहोशी कहानीchudaiki kahinahi hindi videos story page 1बुर का सुपाडाkamwasna ki kamuk kahaniaसुहागरात में दीदी को रखैल बना कर चोदाMa pesab hindi sex stories rajsharmaजीसम की भुखी मा ने नादान बेटे से चुदवाया कहानीमा कि गान्ड मे लोडेससुर ने माँ को जबरदस्ती पटककर चुदाई कर दियेतीन मोटे लंड ममी कि अकेली चुत कहानीBiwi ki kamuktaदीदी की जांघ दिख गईgudda bnkr chudaiरामु से चुदबाती थीBhai ke dost ne panti utarwai xxx hindi storysex story of raseeli randi in randi khana in hindiदादाजीने चुदवाया कहाणीmarwade woman ke suagrat ke cut dekhaomujhe dekar chodaxxx hinde sex storoमौसी चुत में जीभ घुमाईhot story kambaki xxx.commaa.bata. ki.chudae.jagalo.mewww.khub.chodo.galiyadeke.hindi.sex.kahaniएक फौजी की सेकस कहानीबुआ के पेंटी चुत बर्रा कि कहानीबीवी ने दिलाई बहु की बुर की चोदई की कहनी