एक अनूठा रिश्ता

धीरे धीरे मौका मिलने पर वो किचन में मेरी मदद करने के बहाने आते थे और मेरी गांद पर मज़ाक में एक चाँटा मारने लगे, मेरे पीछे खड़े रह कर वो मुझे कहते कि मैं उन्हे खाना पकना सिखा दूं. ऐसे करके वो अपनी ‘टूल’ का अंदाज़ा मुझे महसूस कराने लगे. मूड में रहने पर मैं भी अपनी गांद और पीछे करती और पूरी करती अपनी और उनकी मनोकामना. पर हमे एक- दूसरे से अपनी भावनाए जाहिर करना ना जाने क्यों जम रहा था. शायद तब हमे ये अहसास होता होगा कि हम भले ही एक-दूजे को दोस्त मानते हो पर असल में वो मेरे ससुर और मैं उनकी बहू हूँ.

ये ‘खिचड़ी’ पकने का सिलसिल्ला ऐसे ही 2-3 दिन चला, पर एक दिन नहा कर मैं लौटी और साड़ी पहेन कर निकली वोही ससुर जी ने मेरी तारीफो के पूल बांधना शुरू किए. मैने कहा “क्या बात आज कुछ सही नही लग रहा है, आपकी तबीयत तो ठीक है ना?” इस पर उन्होने कहा, ” क्या कहूँ, आज तुम हमेशा से कुछ ज़्यादा ही सुंदर लग रही हो.” मैं शरमाई और हमेशा की तरह किचन में चली गयी. वो मेरे पीछे थोड़ी देर बाद आए, तब मैं आटा गूंद रही थी. उन्होने मुझसे कहा,” आज आता कैसे गूंदते है ये सिखाउन्गा”.

मैं बोली “आईए फिर देर किस बात की?” मेरे बुलावे पर वो रोज की तरह मेरे पीछे खड़े हुए अपना ‘डंडा’ मुझसे टिका कर और मेरी बाहों के उपर से हाथ डालकर आटे में हाथ डाले. मैं दूसरे हाथ से उन्हे पानी का अंदाज़ा देने लगी, तब उन्होने कहा, “पानी ज़्यादा हुआ तो?” मैने कहा,” फिर आटा ज़्यादा लेकर प्रमाण सुधारना पड़ेगा फिर.” मेरा जवाब सुनकर वो हस पड़े और उन्होने मुझे अंजाने में हल्का सा धक्का लगाया पीछे से. उनकी हसी और धक्के का मतलब मैं समज़ह ना पाने के वजह से मैने कहा कि ” आप हंस्र क्यूँ?” उन्होने कहा कि “तुम बड़ी नादान हो अभी भी.” ये कह कर उन्होने मुझे मेरे गाल पर एक चुंबन दिया, उनकी ये मूव की वजह से मैं चौंक गयी.

यह कहानी भी पड़े  ऑफिस टूर पर काफ़ी मजा आया चुत चुदवा कर

मैं गबड़ा कर उन्हे देखने लगी, तब वो मेरे होतो की ओर अपने होंठ लाने लगे. मैने कहा,” ये सही नही, आप क्या कर रहे हैं? मैं आपकी बहू हूँ.” जवाब में उन्होने कहा, ” मैं जानता हूँ तुम मेरी बहू हो. पर ये भी सही है कि तुम उसके पहले एक नारी हो. जो प्यार की हकदार है. केवल सफेद साड़ी की वजह से उसे इस प्यार का त्याग करना पड़ रहा है.” ये कह कर उन्होने मेरी साड़ी कंधे से हटाई, और दोनो हाथ मेरे कंधे पर रखे. अपने होंठ उन्होने मेरे होंठो से लगाए और उन्होने मुझे किस किया. मैने ज़रा भी अपोज़ नही किया उन्हे, क्यूँ कि मैं गड़बड़ा तो गयी थी ही पर मुझे इसी चुंबन का शायद इंतेजार था? 2-5मिनिट तक उनके होंठ मुझ से जुड़े थे, बाद में उन्होने मेरी आँखों में देखा. मैं शर्मा गयी और वहाँ से भाग कर सीधे अपने बेडरूम गयी. वो वहाँ आ गये, उन्होने मुझसे पूछा,” क्या हुआ? नाराज़ हो क्या मुझसे?” मुंदी हिलाते हुए मैने नही कहा और उनका चेहरा खिला. मैने भी शर्मा कर, अपना मूह बेडशीट मे छुपा लिया. वो बिस्तर पर चढ़े और उन्होने मुझे बाहों में लिया. मैं भी सुकून से उनके साथ लिपट गयी उनकी बाहों में.

इस ‘स्पर्श’ को मैं खोना नही चाहती थी मैं, मैं उनके चौड़े सीने पर बाल खोलकर अपना सिर रख कर लेती थी. वो भी मेरी बालों को एक हाथ से सहलाते हुए, उनका दूसरा हाथ मेरे गाल्लों पर से घुमा रहे थे. अचानक से उन्होने मुझसे पूछा, “अपनी आटा गूंदने की प्रॅक्टीस तो अधूरी ही रह गयी ना?” मैं बोली, ” उसे तो बाद में भी मैं आपको सिखा दूँगी”. इस पर वो बोले, “अगर अब प्रॅक्टीस करे तो?” मैने पूछा “तो फिर चलिए किचन में.” वो एक नटखट सी स्माइल देकर बोले, “किचन में क्यों? यहाँ करू तो?” “ठीक है, मैं आटा लाती हूँ फिर.” ये कह कर मैं उठने लगी, तब उन्होने मेरा हाथ थामा और मुझे अपनी ओर खींचते हुए कहा, “आता नही तो नही, मैं इन्ही से काम चला लूँगा” कह कर मेरे बूब्स उन्होने अपने हाथ में लेकर उन्हे दबाने लगे.

यह कहानी भी पड़े  दीदी के ससुराल में उसकी ननद, सास और जेठानी को खूब चोदा

उनकी इस ‘प्रॅक्टीस’से मैं काफ़ी खुश हुई और मैने उन्हे पूरा सहयोग देने की ठान ली. दबाते दबाते उन्होने अपना मूह मेरे राइट बूब को लगाया और उसे चूसने लगे. एक करेंट सा मेरे शरीर में दौड़ने लगा, ठीक वैसा ही जो मैं नहाते समय महसूस करती थी. कुछ ही मिनितों में उन्होने मेरे ब्लाउस के बटन खोल दिए और ब्रा के उपर से चूस्ते रहे. राइट वाला चूसने के बाद उन्होने लेफ्ट वाले पर अपनी नज़र जमाई और उसे मसल्ने लगे.

तब ना जाने क्यों, मैने उन्हे रोका और उन्हे धकेलते हुए कहा, “ये ग़लत है, मैं अपने आपको धोखा दे रही हूँ, सासू मा का विश्वास तोड़ रही हूँ. ये रिश्ता ग़लत है, पाप है. दुनिया इसे नही स्वीकरेगी.” ससुर जी कहने लगे,” क्या ग़लत है? दुनिया के बारे में क्यूँ सोचो? सासू मा क्या तुम्हे घर से निकाल देगी? अरे वो तो बिस्तर से उठकर बैठ भी नही पाती तो उसे क्या समझेगा अपने बीच क्या चल रहा है?” मैने कहा, ” यही तो ग़लत है, कि हम खास करके मैं उनको अंधेरे में रख कर, उन्ही के पति और मेरे ससुर से रिश्ता रख रही हूँ. अपनी वासनाओं को, अपनी प्यास को बुझा रही हूँ.” “इस में कुछ ग़लत नही है. तुम्हारे हाथ से कुछ ग़लत नही हो रहा. तुम तो केवल अपने नारी होने का एहसास खुद को दिला रही हो, और ये तुम्हारी मजबूरी नही ज़रूरत है.” “शायद आप सही होंगे पर मेरी सिद्धांतों में ये बाते नही बैठ रही हैं. मुझे ये सब कुछ मंजूर नही. मुझे ये सब ग़लत लग रहा है. प्लीज़ मुझे समझने की कोशिश कीजिए.”ऐसा मैने उनसे कहा.

Pages: 1 2 3 4 5 6 7

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


rajsharma sex story 'bhai ki mardangi'सकसी चुत कीविडयोMaa ka gangbang dhekha kahanisax kahani hindi 2018 GndiGaliपेटीकोट उठाकर चूत मारी पापा ने मम्मी कीचोदी चोदा फोटोमा की चडडी दैखीjamka chude lodeaबच्ची ने चूसा लण्ड कहानियाँमाझी खाज सेक्स स्टोरीमामा भांजी की घमासान चुदाई कहानियाbudhi ne land hilaya ratko kahaniदीदी चुदवा रही थीSex jodhpur me didi ko pregnet kr ma bnayaRajsharma hindi sex pesabजुली कि चुदाई कहानीसविता आंटी के किस्सेजवान लडकी को रखैल बना कर चोदाकाका ने पोती को चलती कार मै चोदाborwap desi bur cudayisex videoa chut me loha gusayaatript mummy ke chudai kahani hindi meसकसी मुवी की गाड मरवते हुऐsix sale ko pasab karta dakhमेरा चुदक्कर भाभीयाँबडी बहन की सील तोडी सेकसी गोष्टीkarvachauth mein pyaar mila antarvasna kahaniबळि चूदाईचुत पर चुमा और चुदाइ के चुटकले salma ne xhudwaya storyantarvasna group potiबीवी और बहन की च**** ट्रेन मेंSexkigandistoryहिंदी खेत मुझे मलिक की ladki में rajsharma कहानियोंपापा गाड़ी में चोद रहे थे , सेक्स स्टोरीma ki chudae xxxkhaniyaकथा मराठी सासू सुनबूर मे पेलने वाला बहुत सारे फोटो आ जाये गनदे गनदे चूत में कितना दम ही हिंदी होत स्टोररीटा भाभी और नौकरानी की चोदाईट्रक मे चोदाने विडियोSadi suds orat ki chodar kahani hindi maiwife ne hasband ke dost senxxx full hdBhabi chudai aah uuiimaa kspyar sax storiनागडे सेकसि देशि गुनदा भाभि फोटोमाँ और बहन को चूचू चूदाई कहानी रिश्तोंमे अदला बदली सेक्स स्टोरीpati ke kahne pe sasur se chudbai sexi kahaniघर बुलाया सेकसी वीडियो ओपन हिंदी मे ंdud dhikhake lund chusa sex kahaniyaHandi sex sortyभाई ने बहन की सील तोङीपापा के बॉस को अपनी जवानी दिखाAntarvasnaलँबे लँड कि सेकसी कहानीयाअमी को ईद पर चोदाकहानि चुदाइ किघर में सेल्समैन ने चोदा स्टोरी कहानीमाँ को अकल ने कसके चोदासाडी उठाकर चुत दीखाईBhad Mera Barmer ki MMS videoभाइ बहन को नहते समय चोदा हिँदि कहानी पटने वाला XXX मजेदार/sage risto me chudai antarvasna sex storyकाजल का फिगर Xxx storysbehan ka gangbang birthday sex storyनिकाहचुदाईमम्मी ने मुझसे चुदवाई दोनो बहने चूत और गांड की सील तोङी चुदाई कहानीsexstoriyभैया मामू ने मिलकर मेरी चूत को चोदा सेक्स फोटोGadrai beti ki chut storyma ne muskurate hue chudai ke liye tyarnaukrani ki dost poonam sex storiesSexbaba.net बेटे ने चोदा बहु के सहयोग सेएक्टिंग स्कुल में चुदाई Antaravasnaचोदमदरासी भाबी सारी वाली मोटीक्सक्सक्स नई हनिमून चुड़ै स्टोरीससुरजी ने सबके सामने चोदा सेक्स स्टोरीजीसम की भुखी मा ने नादान बेटे से चुदवाया कहानीMe apni Bhan ka ret lagata hu cudai khaninayi mausixxxकामवाली को बीवी बनाकर चोदा गाली देकरaapki payri भाभी का हिंदी sex sayariHindi sex storyland dikha ke choda ब्लाउज ऊतार जवानी विडियो XXXsali sexy hindi likhabat me video nahiBudhe ne vigra khakar bahu ko choda kahanixxx villej ke kheto me photoKchi umr xxxnbehen bani birthday gift Indian sex stories MAA BETESE LANDSE MAA BAMI HIDI KAHANI COMtai ki chudahi antrwasnaमी आता बरोबर Xxxहाट ओर सैक्सी कहानिया मस्त राम की फिल्म के बहाने गांड़ चाटनेm bra penti ghumi