घर के पास के आंटी की चूत चुदाई

दोस्तों यह बात आज से एक साल पहले की हे. जब में कोलेज में था. कोलेज घर से दूर होने की वजह से मुझे कोलेज के पास एक कमरा किराये पर लेना पड़ा. मेरी बिल्डिंग में ५ घर और थे. मुझे कुछ आयडिया नही था के कोन से घर कोन रहता हे. एक दिन शाम को में अपनी बिल्डिंग से बहार निकला तो मुझे एक आंटी दिखी. अपने से दो घर छोड़ के खड़ी हुई कपडे सुखा रही थी. पहली नजर में तो वो मुझे ज्यादा खास नही लगी. लेकिन मुझे क्या पता था की अन्दर से वो इतनी गरम निकलेगी.

खेर उस दिन तो मेने कुछ सोचा नही की में कभी इनकी चूत में अपना लंड भी डालूंगा.

कुछ दिन बाद की बात हे. बहोत तेज बारिश हो रही थी. तो में कुछ देर के लिए जाकर अपने रूम के पास बहार बरांडे में खड़ा हो गया. मुझे अचानक पीछे से आवाज आई. सुनो बेटा मैने पीछे देखा ओर वो आंटी मुझे अपने पास बुला रही थी.

में उनके पास गया. ओर उनसे पूछा क्या हुआ आंटी तो वो बोली की उसने कहा की उनके घर की चावी खो गई हे कही मार्केट में, ओर उनके पास सामान भी काफी था. दिन का टाइम था. सब घर में सो रहे थे. इसलिए में दिखा तो उन्होंने मुझे ही बुला लिया. उन्होंने मुझसे अपना सामान थोड़ी देर के लिए घर पर रखने को बोला. और कहा की वो इतने में चावी वाले को बुलाकर लाती हे. और वो चावी बना देगा. फिर उनका घर खुल जायेगा.

मेने आंटी से कहा की वो मेरे रूम में बेठ सकती हे. और बारिस रुकते ही चावी वाले को लेकर में आ जाऊंगा. क्योकि बारिश में वैसे भी कोई नही मिलता.

आंटी थोडा हिचकिचाई पर थोडा इंसिस्ट करने पर वो मान गई. थोड़ी देर बाद बारिश रुकी, तो में पास ही में एक चावी वाला था. उसको बुला कर लेकर आया. और आंटी के घर का ताला खुल गया. और आंटी ने मुझे थेंक यु बोला. और चाय पिने के लिए आने को कहा. पर में थोडा शर्मिला हु. तो इसलिए मेने मना कर दिया. आंटी ने थोडा और इंसिस्ट किया. पर मेने फिर भी मना किया. तो वो बोली की ठीक हे. लेकिन इस सन्डे में खाना उनके ही घर पर खाऊंगा ये भी कहा.

यह कहानी भी पड़े  दोस्त की मम्मी बड़ी निकम्मी

फिर हमारी अच्छी बातचीत होना सुरु हो गई. और अनु और में काफी घुल मिल गये. वो मुझे कभी कोई काम होता तो बेजिजक बता देती थी. उनके पति इंजीनियर थे. और काम के सिलसिले से बहार ही रहते थे. और मुस्किल से २-३ बार घर आते थे. आंटी के २ बेटे थे. और वो हॉस्टेल में थे. तो वो अकेली ही रहती थी घर पर. उम्र उनकी थी ३९ साल. रंग थोडा सावला और थोडा गोल शरीर. ऐसे ही एक शाम को अनु ने मुझे चाय पिने के लिए बुलाया. अब हमारी अच्छी बात होती थी. तो में चला गया. हम दोनो दोस्त जेसे थे.

में उनके घर गया. और सोफे पर जा कर बेठ गया. और टीवी देखने लगा. और वो किचन में चाय बनाने चली गई. थोड़ी देर बाद कुछ गिरने की आवाज आई. और आंटी के चीखने की. में तुरंत किचन में गया. तो देखा की आंटी से चाय का तपेला गिर गया था. और गरम गरम चाय उनके पैर पर गिर गई थी. जिससे उनको जलन होने लगी. में तुरंत निचे जुका और अपने रुमाल से चाय साफ करी. उनको दर्द हो रहा था. थोडा सहारा लेकर अपने रूम में गई. और मेने उनको बिस्तर पर बिठा दिया. उनको काफी जलन हो रही थी. तो मेने कहा में पास ही केमिस्ट से बरनोल लेकर आता हु. आप थोड़ी देर रुको और में फट से बरनोल लेकर आ गया.

मेने आंटी से बोला की आंटी में बरनोल लगा देता हु. तो वो मना करने लगी. लेकिन में नही माना. और अपने हाथ पर क्रीम निकालकर रखली. मेने उनके पैर को हलकासा छुआ. तो वो गुदगुदी के मारे उनको पीछे कर रही थी.

यह कहानी भी पड़े  मेरी पड़ोसन सुषमा के साथ चुदाई की

मेने हलके हाथो से क्रीम उनके पैर पर लगाई. लेकिन उनकी सलवार में लग रही थी तो मेने आंटी को कहा की आपकी सलवार गन्दी हो रही हे. तो उन्हों ने थोडासा ऊपर उठाया. और मेने बाकि जगह क्रीम लगा दी. जब मेने क्रीम लगा दी और आंटी तरफ देखा तो उनकी आँखे बंद थी. में समज गया की आंटी मुड में आ रही हे. मेने अनु से पूछा क्या हुआ. तो उन्होंने कहा कुछ नही.

फिर मेने आंटी से कहा की आज वो मेरे यहां खाना खाए. में हम दोनो का बना दूंगा. और वो मान गई. शाम हो चुकी थी. मेने भी घर जाकर आपना रूम साफ किया. और टेबल लगाया. शाम को ८:३० अनु ने मेरे घर की घंटी बजाई.

वो नाईटी में थी. रेड कलर की नाईटी ओर मलमली कपडा देखकर में हेरान रह गया. मुझे समज नही आया और में उनको ऊपर से लेकर निचे तक देख रहा था. में उनसे पूछ ना ही भूल गया अंदर आने को, और उन्होंने मुझसे फिर कहा कहा घूरते रहोगे या अन्दर भी बुलावोगे.

Pages: 1 2 3 4

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!


सास बाहू कीचूदाई कहानीयँखानदान में चुदाई ही चुदाईसास आणि बहू कि चुदाईaruna ki gand chudai ki khhani hindi me2019 की अंकल से चोदाई खून निकल गई नई कहानीSasurji ne chuchi dabai khet me sexy storiesKamvasna stoye hinde xnxxmeri pyasi chut ko.faad daala land daalkeबेटी और ननद को अपने पति से चूदवा या कहानी चुड़ाई कीbua se sexchat wali storyunjane m moshi ke sath sex kiyawww.pura.land.chutme.ghusade.bhosdike.hindi.sex.kahanihindisexstory motisethani की चुदाईantervasna buva ki potii ki chudaibhabhi ko papa ne chodaभाई बहन कि गाड़ पेलाई रजाइ मे/chudai-ke-sholey-kahani/sumegha ki chut chudaiमाँ की गांड को अपनी जीभ से चाटchudai hindi kahani incestxxxsuhagrat story writtmama MAA Papa megurup sexi kahanisali ki beti ka kuwara yovan cudai kahaniबहू कि शेकसि काँखबहन की चुदाई माँ के साथ चूत antrvasnaसाडी उठाकर चुत दीखाईचुदाई की तम्मनाbua ko barsat mein chhodaMe apni Bhan ka ret lagata hu cudai khaniकोमल मेरी हस्तमैथुन करने की स्टोरीmama bhanji ke pyare anterwaanaछूटे की चुदाई अपने हाथ सेदोस्तो ने मा को होली में chodaसेक्स स्टोरीजानकर बहन की चोदाशादी शूदा छोटी बहन की ससूराल मे चूदाईबिना अंडरगारमेंट्स के कॉलेज गर्ल इंडियन वीडियोAntarvasna vivsdidi ko akile me boobs par koob choad ne ka sex kahanimadmast kahaniबीबी की अकेली चूत फट गई बहन को ट्रेन में चोदाTidatin pornchachara bhai say chodaiचुत की रगड रगडकर दीHindi sex rajsarma maa beta comठरकी पापा के साथ उनके दोस्त भी हिंदी सेक्स कहानीantarvasna mummy mare ko sath nahalayaanadi bewa maa saheb beta hindi sex storiesमैंने धीरे से उसकी स्कर्टमुझे टांग उठा कर चुदना हैMeri chut chod ke sujgaiडॉक्टर सीई लगा के बहाने लड़की कीचुदाई sex videodownload pune corni nokar sexDesi sex stories bhid me Mummy ne lesbian keyaIeskrim cuat pi lagakar ki cudaiMene apni Patni ko ger se cudwya sasur bohu ki chudaibali kahaniKamwali ki rakhel banya sex storysashu maa ko choda xxx khani.comland chut ki nipal dabata hindi storydesi Bhabhi ki kamuk kahaniyaथंडी के मौसम में दिदी चुदाईAnjane m raat bhar beti k sath sex story hot heendew xxxxsupriya bhabhi ko choda stories चुदवाईstory ki barsat ki rrat gaon ki ladki ko chodaसुहागरात को बीवी को चोदबहनों की अदला-बदली चुदाईसेकसी खुबसुरत लडकियो का देवर के व नौकर के साथ व आनटी के साथ व बहन के साथ सेकसि चुदाई की हिनदी कहानी